नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा सोशल मीडिया और ओवर-द-टॉप (ओटीटी) प्लेटफॉर्म के लिए नए दिशा-निर्देश जारी करने के एक दिन बाद पर्यावरण कार्यकर्ता और टूलकिट मामले में कथित आरोपी दिशा रवि को लेकर एक अहम बयान दिया है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने शुक्रवार को कहा कि सरकार आलोचना के लिए खुली है लेकिन “देश को बदनाम करने के लिए एक आतंकवादी समूह के साथ गठजोड़ आपत्तिजनक है।

प्रकाश जावड़ेकर ने शुक्रवार को दिशा रवि की जमानत पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारत में लोग देश को बदनाम करने के लिए किसी को भी साजिश रचने मंजूरी नहीं देते हैं। इंडिया टुडे में छपी खबर के मुताबिक यह पूछे जाने पर कि क्या केंद्र सरकार एंटी गवर्नमेंट सामग्री को लेकर सख्त हो जाएगी? इस पर प्रकाश जावड़ेकर ने जोर देकर कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली सरकार भारत की सबसे खुली सरकार है। लेकिन, उन्होंने कहा, शालीनता और राष्ट्रीय हित के मानदंडों का पालन करना होगा।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि हमारे पास एक ऐसा प्रधानमंत्री है, जिसने अपने सात साल के शासन में, हर पिछले प्रधानमंत्री के काम की सराहना की है, चाहे वह कांग्रेस हो, जनता दल हो या कोई भी हो। वह, हमेशा संसद सत्रों की शुरुआत में, कहते हैं कि आप सरकार की आलोचना करते हैं क्योंकि वह सभी लोकतंत्र के बारे में है। इसलिए हम भारत की सबसे खुली सरकार हैं। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि सरकार आलोचना को रोकना या हतोत्साहित नहीं करना चाहती।

उन्होंने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि राष्ट्रीय हित के लिए, शालीनता के मानदंडों का पालन करना चाहिए … अगर कोई किसी आतंकवादी समूह के साथ गठजोड़ करता है, तो यह आपत्तिजनक है। मैं इस बात पर टिप्पणी नहीं करना चाहता कि अदालत ने क्या देखा …. इस देश के अधिकांश लोगों ने किसी को भारत को बदनाम करने की साजिश रचने की मंजूरी नहीं दी है। लोगों को यह पसंद नहीं है। आखिरकार, यह भी लोकतंत्र है।

40050cookie-checkदिशा रवि पर बोले प्रकाश जावडेकर-सरकार आलोचना के लिए खुली है लेकिन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now