नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री एमजे अकबर को एक बड़ा झटका लगा है। पत्रकार प्रिया रमानी के ऊपर उनकी ओर से दायर मानहानि याचिका को राउज एवेन्यू के स्पेशल कोर्ट ने खारिज कर दिया। साथ ही कोर्ट ने साफ किया कि अपने साथ हुए दुर्व्यवहार को दुनिया के सामने रखना किसी तरह का अपराध नहीं है। इसके अलावा पीड़ित महिला को दशकों बाद भी अपनी शिकायत दर्ज करवाने का पूरा अधिकार है। प्रिया रमानी और #metoo कैंपेन से जुड़ी महिलाएं इसे अपनी बड़ी जीत मान रही हैं।

प्रिया रमानी भारतीय पत्रकार हैं। इसके अलावा वो राइटर और एडिटर भी हैं। साल 2018 में जब उन्होंने अपने पूर्व संपादक एमजे अखबर पर यौन शोषण का आरोप लगाया तब उनका नाम चर्चा में आया। इसके अलावा उन्होंने ही #metoo कैंपेन शुरू किया था। प्रिया ने समर हलनकर से शादी की है। वो भी पेशे से पत्रकार हैं। इसके अलावा प्रिया ने अक्टूबर 2020 में इंस्टाग्राम पर India Love Project शुरू किया था।

26300cookie-checkजानें कौन हैं प्रिया रमानी, जिन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर लगाए थे यौनशोषण के आरोप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now