मेलबर्न। ऑस्ट्रेलिया के स्टार स्पिनर नाथन लियोन मोटेरा की पिच को लेकर चल रही हायतौबा से हैरान हैं और उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि जब गेंद स्पिन लेने लगती है तो सभी रोना शुरू कर देते हैं जबकि तेज गेंदबाजी की अनुकूल पिच पर टीमों के कम स्कोर पर आउट होने पर कोई कुछ नहीं बोलता। इंग्लैंड के तीसरे टेस्ट में 10 विकेट की हार के दौरान दोनों पारियों में 112 और 81 रन पर आउट होने के बाद मोटेरा की पिच को कुछ लोगों की आलोचना का सामना करना पड़ रहा है जिसमें पूर्व कप्तान माइकल वॉन, एंड्रयू स्ट्रॉस और एलिस्टेयर कुक भी शामिल हैं। लियोन ने हालांकि क्यूरेटर की सराहना की है।

‘द वेस्ट आस्ट्रेलियन’ ने लियोन के हवाले से लिखा, ‘‘हम दुनिया भर में तेज गेंदबाजी की अनुकूल पिच पर खेलते हैं और 47, 60 रन पर आउट हो जाते हैं। कोई (पिच के बारे में) कुछ नहीं कहता। लेकिन जैसे की यह स्पिन लेना शुरू कर देती है, दुनिया भर में ऐसा लगता है कि सभी ने रोना शुरू कर दिया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे यह समझ नहीं आता। मुझे इसमें (पिच में) कोई दिक्कत नहीं लगी, यह रोमांचक थी।’’ पिच क्यूरेटर से महानतम आफ स्पिनरों में से एक का सफर तय करने वाले लियोन ने कहा कि वह अहमदाबाद के क्यूरेटर को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) में लाना पसंद करेंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं पूरी रात इसे देख रहा था। यह बेहद शानदार था। मैं उस क्यूरेटर को एससीजी में लाने के बारे सोच रहा हूं।’’ भारत दिन-रात्रि के टेस्ट में जहां तीन स्पिनरों के साथ उतरा वहीं इंग्लैंड ने अपनी एकादश में सिर्फ एक स्पिनर जैक लीच को जगह दी। लियोन ने कहा कि इस टेस्ट मैच के बारे में सर्वश्रेष्ठ चीज यह थी कि इंग्लैंड चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरा था। मेरे लिए यही काफी है। मुझे कुछ और कहने की जरूरत नहीं है।

44810cookie-checkपिच विवाद पर नाथन लियोन ने आलोचकों को घेरा, बोले- जब गेंद स्पिन लेने लगती है तो सभी रोना शुरू कर देते हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now