लखनऊ (CNF) /  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव की घटना का संज्ञान लिया है। मुख्‍यमंत्री ने प्रदेश के डीजीपी एचसी अवस्थी से घटना की पूरी रिपोर्ट तलब की है। साथ ही अस्पताल में भर्ती पीड़िता का सरकारी खर्च पर बेहतर से बेहतर इलाज सुनिश्चित कराए जाने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने कहा कि पीड़िता के नि:शुल्क इलाज की व्यवस्था की जाए। सीएम योगी ने कहा कि जनपद उन्नाव की घटना अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है। डीजीपी उत्तर प्रदेश को प्रकरण की पूरी रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दे दिए हैं। अस्पताल में भर्ती पीड़िता का सरकारी व्यय पर बेहतर से बेहतर एवं नि:शुल्क इलाज सुनिश्चित किया जा रहा है। डीजीपी एचसी अवस्‍थी ने बताया कि प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए स्थानीय पुलिस द्वारा छह टीमें गठित की गई हैं। इसका पर्यवेक्षण वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है।

क्‍या है पूरा मामला ?

उन्नाव के असोहा थाना क्षेत्र के एक गांव में बुधवार को तीन किशोरियां खेत में पशुओं के लिए चारा लेने गई थीं। देर शाम तक जब वह वापस नहीं लौटीं तो परिजन तलाश में निकले। उन्‍हें तीनों लड़कियां खेत में कपड़े से बंधी मरणासन्न हालत में मिलीं। परिजन उन्‍हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे, जहां पर डॉक्टरों ने दो किशोरियों को मृत घोषित कर दिया। वहीं, तीसरी लड़की अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है। उसे वेंटीलेटर पर रखा गया है। पोस्टमार्टम के मुताबिक, मृत पाई गईं दो लड़कियों के शरीर में जहरीला पदार्थ मिला है। डॉक्टर्स ने सैंपल को जांच के लिए लैब भेजा है। एफएसएल टीम को बुलाया गया है, जो घटनास्थल का रिक्रिएशन कर जांच को आगे बढ़ाएगी।

बता दें, तीसरी लड़की कानपुर के रिजेंसी अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रही है। विपक्ष इस मामले में पीड़ि‍ता को दिल्ली एयरलिफ्ट करने की मांग कर रहा है। उधर, गांव को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। जगह-जगह बैरियर लगा दिए गए हैं। भारी संख्‍या में पुलिस फोर्स तैनात है।

28430cookie-checkसीएम योगी ने DGP से तलब की रिपोर्ट, पीड़‍िता को फ्री इलाज के दिए निर्देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now