वाराणसी(CNF)/ खबर उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले से है, यहां भेलूपुर थाने में आईटी एक्ट के तहत 18 लोगों के खिलाफ एक एफआईआर दर्ज हुई। एफआईआर दर्ज होने के साथ ही चर्चा का विषय भी बन गई है। दरअसल, इस एफआईआर में एक नाम ऐसा है, जिस पर सबसे ज्यादा चर्चा है और वो नाम है गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई का। जी हां, गगूल के सीईओ सुंदर पिचाई, गायक विशाल गाजीपुरी और सपना बौद्ध सिंगर समेत 18 लोगों के खिलाफ आईटी एक्ट और साजिश रचने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।
ये मुकदमा गौरीगंज निवासी गिरिजा शंकर जायसवाल ने दर्ज करवाया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गिरिजा शंकर जायसवाल ने वाराणसी के अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट-3 को प्रार्थना पत्र दिया था, जिसपर पुलिस को एफआईआर दर्ज करने के लिए आदेशित किया गया था। पुलिस के मुताबिक, गिरिजा शंकर जायसवाल के व्हाट्सएप ग्रुप पर ‘देश विक्रेता’ के नाम से एक वीडियो आया। वीडियो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबंध में देश बेचने सहित अन्य प्रकार की अमर्यादित बात की गई थी।
इसमें कथित तौर पर गिरिजा शंकर का मोबाइल नम्बर भी डाल दिया गया। तब से लगातार गिरिजा शंकर को आठ हजार धमकी भरे कॉल उनके मोबाइल आ चुके है, जिनमें उन्हें जान से मारने की धमकी और गाली दी जा रही है।

गिरिजा शंकर ने गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई समेत कुल 18 लोगों के खिलाफ जान से मारने की धमकी, अपशब्द और अन्य मामलों में मुकदमा दर्ज कराने के लिए कोर्ट में गुहार लगाई।

 

19230cookie-checkवाराणसी में दर्ज हुई FIR, गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई समेत 18 लोगों के खिलाफ |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now