समाजसेवी डा0 अनुराग श्रीवास्तव।

POTO–ARUN KUMAR

फतेहपुर(CNF)। समाजसेवा के क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभाने वाले एवं यूथ आइकान होम्योपैथिक चिकित्सक डा0 अनुराग श्रीवास्तव द्वारा तीन माह पूर्व रोडवेज बसों में महिलाओं के लिए सुरक्षित सीट दिये जाने की मांग को लेकर प्रधान प्रबन्धक को भेजे गये ज्ञापन का संज्ञान लेते हुए शासन ने पूरे प्रदेश में यह व्यवस्था लागू करने के लिए पत्र जारी किया है। उसकी एक प्रतिलिपि यूथ आइकान को भी भेजी गयी है। शासन द्वारा यह व्यवस्था लागू किये जाने से जहां महिलाओं में खुशी का माहौल है वहीं यूथ आइकान ने शासन का धन्यवाद भी दिया।
सत्य नारायण सेवा फाउंडेशन के मुख्य ट्रस्टी एवं समाजसेवी यूथ आइकान डा0 अनुराग श्रीवास्तव ने 19 अक्टूबर वर्ष 2020 को उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के प्रधान प्रबन्धक को एक पत्र लिखकर अवगत कराया था कि रोडवेज बसों में महिलाओं को यात्रा करने में खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। यदि बस में पुरूष सवारियां पहले से बैठी है तो महिलाओं को खड़े होकर यात्रा करने के लिए विवश होना पड़ता है। इसलिए महिलाओं को रोडवेज बसों में सुरक्षित सीट प्रदान की जाये। जिससे महिलाओं को खड़े होकर यात्रा न करना पड़े। यूथ आइकान के इस पत्र का संज्ञान लेते हुए प्रधान प्रबन्धक ने समूचे प्रदेश के क्षेत्रीय प्रबन्धकों को भेजे गये पत्र में आदेश जारी किया कि परिवहन निगम की बसों में महिलाओं के बैठने की समुचित व्यवस्था के अन्तर्गत तीन सीटंे निर्धारित की जायें। यदि कोई पुरूष यात्री पहले से यात्रा कर रहा है और महिला के सवार होने पर सीट खाली कराने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। जैसे ही यह जानकारी सार्वजनिक हुयी तो महिलाओं ने यूथ आइकान के इस प्रयास की भूरि-भूरि प्रशंसा की। उधर यूथ आइकान ने भी प्रधान प्रबन्धक का आभार प्रकट करते हुए कहा कि उनके पत्र का संज्ञान लेकर शासन द्वारा यह व्यवस्था पूरे प्रदेश में लागू कर दी गयी है। महिलाओं को अब रोडवेज बसों में खड़े होकर यात्रा करने के लिए विवश नहीं होना पड़ेगा।

26850cookie-checkफतेहपुर(CNF)/ रोडवेज बस में महिलाओं को मिलेंगी तीन सुरक्षित सीटें – यूथ आइकान ने तीन माह पूर्व प्रधान प्रबन्धक को भेजा था ज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now