संसद में बजट सत्र चल रहा है, बुधवार सुबह राज्यसभा की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस सासंदों- गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा ने किसान आंदोलन के मद्देनजर राज्यसभा में कार्यस्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है लेकिन कार्यवाही शुरू होते सभापति एम वेंकैया नायडू ने सदन के सदस्यों को मोबाइल फोन के इस्तेमाल को लेकर चेतावनी दी।

उन्होंने कहा कि सदन में सेल्युल फोन का इस्तेमाल प्रतिबंधित है। पता चला है कि कुछ सदस्य मोबाइल फोन से सदन की कार्यवाही रिकॉर्ड कर रहे हैं। सभापति ने कहा कि सदस्यों को राज्यसभा चैंबर के अंदर इस तरह की अनुचित गतिविधियों से दूर रहना चाहिए, सदन की कार्यवाही की इस तरह रिकॉर्डिंग और सोशल मीडिया पर इसके प्रसार से विशेषाधिकार हनन और सदन की अवमानना ​​हो सकती है, ऐसा व्यवहार संसदीय मर्यादा के खिलाफ है, जो लोग ऐसा कर रहे हैं उनके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा।

किसान मुद्दे को लेकर सदन में हंगामा, 9:40 तक सदन की कार्यवाही स्थगित

मालूम हो कि आज सदन में कांग्रेस सांसद दिग्विजय सिंह ने पत्रकारों, सोशल एक्टिविस्टों पर राजद्रोह की धाराओं के तहत मामले दर्ज कराने का मुद्दा उठाया और कांग्रेस नेता शशि थरूर, राजदीप सरदेसाई के खिलाफ दर्ज मामलों का जिक्र किया, जिसके बाद सदन में हंगामा होने लगा, सभापति वेंकैया नायडू ने सांसद संजय सिंह, सुशील गुप्ता और एन डी गुप्ता का नाम लेकर कार्यवाही सुचारू रूप से चलाने की अपील की लेकिन जब वो नहीं माने तो सभापति ने सांसद संजय सिंह, सुशील गुप्ता और एनडी गुप्ता को सदन से बाहर जाने नोटिस जारी किया और 40 मिनट तक के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी।

4390cookie-checkराज्यसभा में मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर भड़के सभापति नायडू , कहा- ‘ये सदन की अवमानना, लिया जाएगा एक्शन’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now