कानपुर (CNF) सुशील गुप्ता की रिपोर्ट
भीख मांगकर गुजर बसर करने वाली दिव्यांग महिला से उसकी गुमशुदा नाबालिग बेटी को ढूंढने के लिये अपने वाहन में डीजल भरवाने वाले सनिगंवा पुलिस चौकी के प्रभारी को मंगलवार को निलंबित कर दिया गया है। पुलिस उप महानिरीक्षक कानपुर प्रीतेंद्र सिंह ने बताया कि चौकी प्रभारी सब इंस्पेक्टर राजपाल सिंह को प्रथम दृष्टया दोषी पाते हुये उनके खिलाफ कार्रवाई की गयी। उन्होंने बताया कि छावनी क्षेत्र के सहायक पुलिस अधीक्षक निखिल पाठक को इस मामले की जांच सौंपी गई थी।

पुलिस उप महानिरीक्षक ने बताया कि सोमवार को एक महिला ने उनसे शिकायत में दावा किया कि एक माह पूर्व उसके एक रिश्तेदार ने उसकी 15 साल की बेटी का अपहरण कर लिया गया था। चौकी प्रभारी राजपाल सिंह ने कहा कि वह पुलिस की गाड़ी में डीजल भरवा दें तो उसकी बेटी को ढूंढेंगे। महिला का आरोप है कि उसने अपने रिश्तेदारों से 10 से 15 हजार रूपये उधार मांग कर पुलिस को डीजल के लिये पैसे दिये।

इस मामले को गंभीरता से लेते हुये पुलिस उप महानिरीक्षक ने मामले की जांच के निर्देश दिये और प्रथम दृष्टया आरोप सही पाये गये। उन्होंने बताया कि सोमवार को सब इंस्पेक्टर को पुलिस चौकी से हटा कर पुलिस लाइन से संबद्ध कर दिया गया और मंगलवार को जांच रिपोर्ट आने के बाद उन्हें निलंबित कर दिया गया।

पुलिस अधीक्षक नगर शिवा जी ने बताया कि दिव्यांग महिला की 15 साल की बेटी को उसके किसी नजदीकी रिश्तेदार ने एक माह पहले अपहरण कर लिया था। महिला ने इस संबंध में चकेरी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी और सनिगंवा पुलिस चौकी के पुलिसकर्मियों के पास बेटी को ढूंढने के लिये गुहार लगा रही थी। महिला का आरोप है कि पुलिसकर्मियों को हजारों रूपये डीजल के लिये देने के बाद वह बेटी को ढूंढने के लिये तैयार हुये।

3560cookie-checkभीख मांगने वाली महिला से जीप में डीजल भरवाने वाला दरोगा सस्पेंड,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now