PHOTO–ARUN KUMAR
फतेहपुर(चौडगरा)।मलवा विकास खण्ड के पहुर गाव मे आयोजित दो दिवसीय रामलीला मे दूसरे दिवस सीता स्वयंबर,धनुष यज्ञ एवं परशुराम-लक्ष्मण संवाद का मंचन हुआ।राजा जनक ने धनुष तोडने वाले से ही सीता का विवाह करने की घोषणा किया तो राजा धनुष को तोडने के लिये इकठ्ठा हो गये।दूर दूर से राजाओ ने धनुष तोडना तो दूर उसे हिला भी नही पाये।तब गुरु की आज्ञा पाकर श्री राम धनुष तोडते है।शिव धनुष खंडित होते ही पहुंचे भगवान परशुराम की क्रोधाग्नि भड़क उठी,तब लक्ष्मण ने मुस्कराकर कहा ‘सुनहू देव सब धनुष समाना’ यह संवाद बेहद सराहा गया।लक्ष्मण परशुराम का तार्किक संवाद दोपहर तक चलता रहा।अंत मे श्री राम संदेह दूर करते है और संवाद का समापन होता है।
प्रमुख रूप से प्रधान गणेश दिक्षित,सर्वेश विश्वकर्मा,आचार्य रामजी पाण्डेय,अमित पाण्डेय,शिवम तिवारी,आलोक गौड़,हिमाशू सिंह भदौरिया,पिन्टू परिहार,अंकुश तिवारी,नारायण सिंह,दुर्गेश मिश्रा आदि रहे।

35200cookie-checkफतेहपुर(CNF)/ शिव धनुष टूटते ही क्रोधित हुये परशुराम लक्ष्मण परशुराम संवाद सुन लगाये जयकारे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now