बारिश व ओलावृष्टि से बर्बाद फसल का दृश्य।
मंगलवार शाम से रात तक हुई बरसात और गिरे ओलों ने मचाई तबाही
आकाशीय बिजली गिरने से 20 लाख कीमत की 200 भेड़ की हो गई मौत
सिटी न्यूज फतेहपुर 
फतेहपुर(CNF)। मंगलवार बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि ने दोआबा की फसलों को तहस नहस कर दिया। खेतों पर लहलहाती फसलों पर टूटे कहर से अन्नदाता दो राहे पर खड़ा हो गया। कर्ज के बोझ तले दबे किसानों की प्रकृति की इस मार से चीख निकल गई। बरसात और ओला के साथ गाज गिरने से 200 भेड़ काल कलवित हो गईं। जिनकी कीमत 20 लख रुपए आंकी जा रही है।
जनपद में बेमौसम मूसलाधार बारिश और ओलावृष्टि से फसलों पर कहर टूट पड़ा। वर्षा और ओलावृष्टि की इस बेजा मार से गन्ना, गेंहू, सरसों और चने की फसल सर्वाधिक प्रभावित हुई है। प्रकृति की मार का शिकार हुआ किसान बुधवार की सुबह खेत पहुंचा तो नजारा देखकर उसके मुंह से चीख निकल गई। बरसात और ओला की मार से लगभग समूचे जिले का किसान सीधे प्रभावित हुआ।
इनसेट-
भेड़ पालकों को लंबी चपत
फतेहपुर(CNF)। मंगलवार मानसूनी करने न केवल किसानों को झकझोर कर रख दिया बल्कि भेड़ पालक भी इसकी जद में आए। शहर के लखनऊ बाईपास के समीप आधारपुर गांव में प्रश्चाय लिए भेड़ पालक राम सजीवन रामखेलावन व रामधनी की 200 भेड़ मौत की आगोश में जा समाई। गाज गिरने से 30 गंभीर रूप से झुलस गई। प्रशासनिक अमले ने मौके पर पहुंचकर हालात का जायजा लिया। जिसके बाद इन मृत मवेशियों का पोस्टमार्टम कराया गया।
इनसेट-
डीएम को पत्र भेजकर राहत देने की मांग
फतेहपुर। जिले के निवासी व इलाहाबाद विश्वविद्यालय के संघटक चैधरी महादेव प्रसाद और सीएमपी पीजी कॉलेज के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष करन सिंह परिहार ने डीएम को पत्र भेजा है। करन सिंह परिहार ने कहा कि किसान पहले ही कर्ज की चपेट में हैं। बेमौसम की बारिश ने उसकी उम्मीदों पर गहरा प्रहार किया है। लिहाजा बर्बाद हुई फसलों की समीक्षा कर किसानों का राहत देने हेतु अतिशीघ्र देना चाहिए।

901670cookie-checkफतेहपुर(CNF)/ कहर: बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि से फसलें तहस नहस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now