गोरखपुर एडीजी जोन अखिल कुमार ने जब से गोरखपुर में अपना पदभार ग्रहण किया है तब से लेकर अब तक गोरखपुर पुलिस और यहां की सुरक्षा व्यवस्था पर अपनी कड़ी पैनी नजर बनाए हुए हैं।

सवांददाता शाहिद खान

गोरखपुर(सीएनएफ)। एडीजी जोन अखिल कुमार गोरखपुर रेंज की पहली बैठक करते हुए अपराध नियंत्रण पर रोक लगाने के लिए एक कार्ययोजना आए हुए एसएसपी व एसपी को बनाने को कहा जिससे अपराध व अपराधियों पर पूर्ण रूप से विराम लगाया जा सके एडीजी जोन ने कहा कि अपराधियों के विरुद्ध अभिसूचना संकलन कर अभ्यस्त अपराधियों की कुंडली खंगालते हुए सीमावर्ती जनपदों में अपराध करने वाले अपराधियों पर कैसे नियंत्रण किया जाए सीमावर्ती जनपदों के साथ बेहतर तालमेल बिठाते हुए थाना स्तर पर अपराध करने वाले अपराधियों पर कैसे नियंत्रण किया जाए तथा तटीय क्षेत्रों में संयुक्त रूप से अभियान चलाकर अपराध व अपराधियों तथा शराब माफियाओं व गौ तस्करों पर कड़ी कार्रवाई किया जाए जिससे शराब माफिया व गौ तस्कर द्वारा अपराध न करने को मजबूर हो।
पहली बैठक अपने कार्यालय में करते हुये एडीजी जोन अखिल कुमार ने कहा कि अपराध नियंत्रण और माफिया पर रोक लगाने के लिए उन्होंने वृहद कार्य योजना बनाने का निर्देश दिया। एडीजी जोन ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि पहली प्राथमिकता अपराध को नियंत्रण करना और अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजना है।जो भी पूर्व में लंबित मामले हैं फरार चल रहे आरोपित या फिर अन्य मामलों के फरार अभियुक्तों की धरपकड़ के लिए विशेष अभियान चलाया जाए। नेपाल सीमावर्ती जनपदों महाराजगंज कुशीनगर जिलों के एसपी को कहा कि इन क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर अभियान चलाया जाए। शराब माफियाओं व गौ तस्करों के मंसूबे को विफल करना है। साथ ही प्रतिबंधित मादक पदार्थ जैसे शराब अफीम गांजा चरस हीरोइन की तस्करी को रोकना है। मादक पदार्थों को एक स्थान से दूसरे स्थान ले जाने वाले गिरोह पर भी पुलिस का शिकंजा कसा जाए। सीमावर्ती जिला महाराजगंज कुशीनगर देवरिया जिले सहित गोरखपुर जोन के सभी पुलिस कप्तान आपस में समन्वय बनाकर अपराध और अपराधियों पर नियंत्रण रखें। हर हाल में विधि व्यवस्था और सांप्रदायिक सौहार्द बनाए रखना हम सभी का दायित्व है अपने दायित्वों का सभी को पालन करते हुए अपने-अपने जनपदों के सर्किल अफसरों और थाना प्रभारियों को निर्देशित करे कि अपने दायित्वों का अनुपालन कराते हुए अपराध व अपराधियों सहित गौ तथा मादक तस्करों व शराब माफियाओं पर अंकुश लगाने का कार्य करे निर्देश एडीजी ने अधिकारियों को दिया।
एडीजी ने अलग-अलग जिलो में आपराधिक घटनाओं के अलग-अलग तरीके हैं इसलिए अगल बगल जिलों के कप्तानों से आपसी तालमेल बराबर बनाए रखें एडीजी ने कहा कि हर हाल में सामान्य स्थिति महत्वपूर्ण आपराधिक गिरोहों तथा उनके सक्रिय सदस्यों के बारे में जानकारी लेकर उनके विरूद्ध कार्रवाई करें। अतिसंवेदन व संवेदनशील क्षेत्रों पर रखे विशेष निगरानी उन्होंने पूर्व में उत्पन्न गंभीर विधि व्यवस्था समस्या की समीक्षा कर संवेदनशील व अति संवेदनशील स्थानों साथ ही समस्या उत्पन्न करने वाले असामाजिक तत्वों की पहचान कर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया। पीड़ितों को न्याय दिलाने को रहे प्रयासरत
एडीजी ने पुलिस कप्तान से कहा कि पीड़ित व्यक्ति तथा उनके कार्यालय आने वाले सभी व्यक्तियों से मुलाकात करें। यथा संभव समस्या का निराकरण करें। महत्वपूर्ण व गंभीर श्रेणी के अपराधों की समीक्षा कर इनके रोकथाम के लिए कार्रवाई करने तथा पूर्व से लंबित ऐसे सभी मुकदमो के निष्पादन का निर्देश दिया। समीक्षा के उपरांत गैर कानूनी खनन को रोकने तथा मद्य निषेध को कड़ाई से लागू करने तथा इसमें संलिप्त अपराधकर्मियों के विरुद्ध अभियान चलाकर कार्रवाई के लिए निर्देशित किया।
एडीजी ने जोन के प्रत्येक जिले में पुलिस के स्तर से कुछ ऐसे अच्छे पहल करने के लिए निर्देशित किया, जिससे पुलिस की कार्यशैली में पारदर्शिता आए। सामाजिक स्तर पर सुधार दिखे तथा पुलिस कर्मियों का मनोबल बना रहे। बैठक में प्रमुख रूप से आईजी रेंज राजेश मोदक डी राव गोरखपुर डीआईजी/एसएसपी जोगिंदर कुमार देवरिया एसपी श्रीपति मिश्रा कुशीनगर डीआईजी/एसपी बीके सिंह महराजगंज एसपी प्रदीप गुप्ता सहायक पुलिस अधीक्षक क्षेत्राधिकारी कैंपियरगंज राहुल भाटी एडीजी पेशकार मौजूद रहे। एडीजी जोन ने कहा कि आगे जोन के अन्य पुलिस कप्तानों के साथ बैठक की जाएगी।

31580cookie-checkगोरखपुर(CNF)/ एडीजी जोन अखिलअखिल कुमार के द्वारा अपना पद भार ग्रहण करने के बाद आज गोरखपुर मंडल के समस्त पुलिस के आला अधिकारियों के साथ की क्राइम मीटिंग !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

For Query Call Now