गोरखपुर(सीएनएफ)

संवाददाता शाहिद खान की रिपोर्ट

एक-एक क्षय रोगी को सीएमओ और डीटीओ ने लिया गोद

गोरखपुर। प्रदेश को वर्ष 2025 तक क्षय रोग मुक्त किया जाना है । जिसके लिए राष्ट्रीय व प्रदेश स्तर पर प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री द्वारा लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस संबंध में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल की मंशा के अनुसार समाज के विभिन्न वर्गों से 18 से कम उम्र के क्षय रोगियों को बेहतर देखभाल के लिए इलाज आदि के लिए गोद लेने की प्रक्रिया संचालित की जा रही है।

इस क्रम में जनपद के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 सुधाकर पांडे, जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ0 रामेश्वर मिश्र व पाथ संस्था के कंसलटेंट डॉ0 नीरज पांडे ने मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय में एक एक बच्चे को गोद लिया।इस सम्बंध में जिला क्षय रोग अधिकारी ने बताया कि राज्यपाल महोदया की मंशा है कि समाज के विभिन्न वर्गों में जिसमें सरकारी व गैर सरकारी क्षेत्र औद्योगिक इकाइयों व्यवसायियों समाजसेवी आदि वर्गों द्वारा मरीजों को गोद लेकर उनके इलाज अवधि में पूरी देखभाल व दवा जांच की निरंतर उपलब्धता को सुनिश्चित करने के दायित्वों का निर्वहन किया जाना है। डीटीओ ने कहा कि दवा सरकार द्वारा निशुल्क उपलब्ध कराई जाती है जिसे 6 माह तक बिना बाधा के सेवन किया जाना आवश्यक है जिसके अभाव में बीमारी की जटिलता बन सकती है जिसे रोकना समाज का दायित्व है।

14870cookie-checkगोरखपुर मे भी एक मुख्य चिकित्सा अधिकारी और डी टी ओ द्वारा शुरू की गई अनूठी पहल।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now