उत्तर प्रदेश योगी सरकार में हुई कार्रवाई

 गोरखपुर(CNF) संवाददाता शाहिद खान

गोरखपुर जोन की पुलिस ने बदमाशों और माफियायों के खिलाफ एनएसए का शतक लगा दिया है। योगी सरकार बनने के बाद से अब तक 100 लोगों पर रासुका की कार्रवाई की जा चुकी है। यह अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है वहीं जोन की पुलिस ने 1054 गैंगेस्टर एक्ट में मुकदमा दर्ज कर 3239 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। अपराध से कमाई गई बदमाशों की 154 करोड़ की सम्पत्ति को पुलिस ने जब्त कराया है। आने वाले दिनों में यह आंकड़ा और ज्यादा बढ़ने वाला है।
दअरसल योगी सरकार ने अपने शपथग्रहण के बाद से ही बदमाशों और माफियों के खिलाफ सख्ती शुरू कर दी। प्रदेश के सभी जिलों के पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिया गया कि वे गुंडों-माफियाओं पर कार्रवाई करें, उन्हें गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचाए। इसी क्रम में अपराध से कमाई गई बदमाशों की सम्पत्ति को जब्त करने का भी योगी सरकार ने फरमान सुनाया, जिसके बाद पुलिस की सख्ती शुरू हुई और बदमाशों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू हुई। इससे बड़े बदमाश या तो सलाखों के पीछे हैं या फिर उन्होंने प्रदेश छोड़ दिया है। इसी सख्ती का नतीजा है कि गोरखपुर जोन की पुलिस ने बदमाशों की 154 करोड़ से ज्यादा की सम्पत्ति को जब्त कर लिया है। कार्रवाई का सिलसिला जो चल रहा है उसके मुताबिक आने वाले दिनों में यह आंकड़ा काफी आगे जाएगा। गोरखपुर पुलिस ने सभी गैंगेस्टर की सम्पत्ति को जब्त करने की तैयारी शुरू की है और अभी 50 से ज्यादा बदमाशों की सम्पत्ति जब्त करने की तैयारी है। इसी के साथ पुलिस ने गैंगेस्टर की कार्रवाई भी बढ़ा दी है। एडीजी जोन दावा शेरपा ने कहा कि गुंडों-माफियाओं पर शिकंजा कसने के लिए यह कार्रवाई लगातार जारी रहेगी। बदमाशों द्वारा अपराध से कमाई गई सम्पत्ति का ब्योरा जुटाकर उन्हें जब्त कर आर्थिक चोट पहुंचाया जा रहा है। इसी का नतीजा है कि अब तक 154 करोड़ से ज्यादा की सम्पत्ति जब्त की जा चुकी है।

20 मार्च 2017 से 31 जनवरी 2021 तक हुई कार्रवाई;
गोरखपुर परिक्षेत्र में 578 मुकदमा, 1728 की गिरफ्तारी, 76 की सम्पत्ति कह जब्ती हो चुकी है। गैंगेस्टर के सबसे ज्यादा मुकदमें 194 गोरखपुर में दर्ज किए गए, जिसमें 377 की गिरफ्तारी की गई वहीं मुकदमों की संख्या के मामले में गोरखपुर भले ही ज्यादा है पर परिक्षेत्र के तीन अन्य जिलों महराजगंज, देवरिया और कुशीनगर में गिरफ्तारियां इससे कहीं ज्यादा हैं। सबसे ज्यादा देवरिया ने 520 गैंगेस्टर को गिरफ्तार किया गया है। बदमाशों की संख्या के हिसाब से सम्पत्ति जब्त करने के मामले में भी परिक्षेत्र में कुशीनगर, महराजगंज के बाद गोरखपुर का नम्बर है लेकिन जब्त की गई सम्पत्ति में गोरखपुर सबसे आगे है। गोरखपुर पुलिस 16 गैंगेस्टरों की 54 करोड़ की सम्पत्ति जब्त करने की रिपोर्ट प्रशासन को दे चुकी है। जिसमें 11 की सम्पत्ति अब तक जब्त की जा चुकी है और दो की जब्ती के आदेश डीएम ने दिए हैं बाकी तीन की फाइल पर आदेश का इंतजार है। वहीं बात गोरखपुर जोन के 11 जिलों की करेंगे तो 1054 बदमाशों पर गैंगेस्टर ऐक्ट में मुकदमें हुए जिनमें 3239 की अब तक गिरफ्तारी हो चुकी है। जोन के देवी पाटन और बस्ती परिक्षेत्र की अपेछा गोरखपुर परिक्षेत्र में ज्यादा कार्रवाई हुई है।

100 पर लगाया जा चुका है रासुका;
गोरखपुर जोन के 11 जिलों में बीते तीन सालों में 100 बदमाशों और माफियाओं पर रासुका की कार्रवाई की जा चुकी है। रासुका की कार्रवाई में गोरखपुर जोन का देवी पाटन परिक्षेत्र सबसे आगे रहा है। यहां के गोंडा जिले में सबसे ज्यादा 33 बदमाशों पर रासुका की कार्रवाई हुई वहीं बहराइच में 27 तो बलरामपुर में पांच और श्रावस्ती में पांच पर रासुका की कार्रवाई हुई। इन चार जिलों से ही 70 लोगों पर रासुका लगाया गया। बस्ती परिक्षेत्र में संतकबीरनगर जिले से दो पर रासुका की कार्रवाई वहीं गोरखपुर परिक्षेत्र से 28 पर रासुका लगाया गया जिसमें गोरखपुर जिले से 11, देवरिया से दस और महराजगंज से सात के खिलाफ कार्रवाई शामिल है।

12750cookie-checkगोरखपुर जोन की पुलिस ने लगाया बदमाशों पर एनएसए का शतक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now