नवागत एडीजी जोन भानु भास्कर ने कार्यभार संभालते ही शनिवार को अपनी प्राथमिकताएं बताईं। उन्होंने पंचायत चुनाव को शांतिपूर्वक संपन्न कराने के लिए विशेष रणनीति बनाने, भू माफिया, शराब माफिया और खनन माफिया के खिलाफ अभियान चलाकर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। साथ ही विवेचनाओं का गुणवत्तापूर्वक निस्तारण व गैंगस्टर एक्ट में माफिया की संपत्ति जब्त कराने के भी मातहतों को आदेश दिए। इससे पूर्व डीआइजी से उन्होंने बिकरू कांड की फाइल ली।

1996 बैच के आइपीएस अधिकारी भानु भास्कर ने बताया कि उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी और जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय से बीए, एमए और एमफिल की डिग्री ली थी। मूलरूप से बलिया के रहने वाले हैं। वाराणसी, बरेली, औरैया, लखनऊ, मथुरा, रामपुर में एएसपी, एसपी और फिर एसएसपी रहे। फैजाबाद और आगरा रेंज के डीआइजी भी बने। इसके अलावा एसपी जीआरपी लखनऊ और डीआइजी रेलवे इलाहाबाद व डीआइजी पीटीसी मेरठ भी रहे। वर्ष 2003 से 2010 तक और वर्ष 2013 से 2021 तक वह केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर भी रहे। जहां सीबीआइ में एंटी करप्शन पॉलिसी डिवीजन में एसपी व बाद में डीआइजी और ज्वाइंट डायरेक्टर सीबीआइ भी रहे। नेशनल डिफेंस कॉलेज 60वें बैच में उच्च रणनीति प्रबंधन का कोर्स किया। 2007-08 में एचएचएच हम्फ्रे प्रोग्राम के तहत फुलब्राइट फैलोशिप प्राप्त की और 2015 में कनाडा के ओटावा से रॉयल कैनेडियन माउंटेड पुलिस कोर्स किया।

एडीजी ने बताया कि उन्होंने महिलाओं और बच्चों के साथ होने वाले अपराधों की विवेचनाओं पर विशेषज्ञता हासिल की। पुलिस फोर्स में अनुशासन बनाने और भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए वह मॉनीटरिंग सिस्टम को और मजबूत करेंगे। जांच में दोषी पाए जाने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि बिकरू कांड की फाइल व पूरी रिपोर्ट मिल गई है। विवेचना के बिंदुओं को भी देखेंगे। साथ ही आगामी पंचायत चुनाव के लिए रणनीति तैयार की जाएगी।

21640cookie-check कानपुर(CNF)/नवागत एडीजी जोन भानु भास्कर ने कार्यभार संभालते ही कहा पंचायत चुनाव शांतिपूर्वक संपन्न कराना प्राथमिकता : एडीजी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now