सुशील कुमार गुप्ता की रिपोर्ट

उन्नाव (CNF) बबुरहा गांव में हुई घटना का शुक्रवार देर शाम आईजी लक्ष्मी सिंह ने खुलासा कर दिया। आरोपी कोई और नहीं पड़ोस के गांव का युवक निकला। भर्ती रोशनी से एकतरफा प्रेम का इजहार करने और उसके मना करने की खुन्नस पर आरोपी ने गांव के ही एक नाबालिग साथी की मदद से पहले खेत जाकर नमकीन खिलाई फिर जहरीला पानी पिला दिया

नमकीन खाने के बाद काजल व कोमल की जहरीला पानी पीने से मौत हो गई, जबकि रोशनी का इलाज चल रहा है। दोनों आरोपियों ने गिरफ्तारी के दौरान अपना गुनाह स्वीकार किया है। परिजनों से पूछताछ के बाद पुलिस ने आरोपियों तक पहुंचने का दावा किया है। आईजी लक्ष्मी सिंह ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान पाठकपुर गांव निवासी विनय उर्फ लंबू लॉकडाउन के दौरान 14 वर्षीय रोशनी के संपर्क में आया।

दोनों में बातचीत शुरू हो गई। विनय ने रोशनी से प्यार का इजहार किया। रोशनी ने उसका प्रस्ताव ठुकराते हुए उससे दूरियां बनानी शुरू कर दी। इसी खुन्नस में विनय ने रोशनी की हत्या की योजना बनानी शुरू कर दी। उसने रोशनी को इस बात का एहसास नहीं होने दिया वह उससे खुन्नस मानने लगा है। विनय और रोशनी के खेत अगल-बगल होने से वह रोजाना रोशनी से मिलने जाने लगा। 6 दिन पहले उसने हत्या की योजना बनाई।

बुधवार दोपहर रोशनी अपनी चचेरी बहन काजल व भतीजी कोमल के साथ चारा लेने खेत पहुंची। रोशनी को जाता देख विनय ने बोतल में पानी भरा और फसल में मिलाने वाली कीट नाशक मिला दिया। गांव के नाबालिग दोस्त से नमकीन मंगवाई और खेत पहुंच गए। उन्होंने रोशनी, काजल व कोमल को खेत की मेड़ पर बैठाकर नमकीन खिलाई।पानी की बोतल देख रोशनी ने पानी मांगा, जिस पर विनय ने बोतल उसे पकड़ा दी। रोशनी के पानी पीने के बाद काजल और कोमल ने भी पानी पी लिया।

कुछ देर बाद तीनों को लड़खड़ाता देख पास ही सरसों के खेत में डालकर दोनों भाग निकले। शाम को आरोपियों को उन्हें इस बात की जानकारी हुई कि रोशनी की मौत नहीं हुई है जबकि उसके साथ ही कोमल व काजल की मौत हो गई है। शक के आधार पर पुलिस ने पूछताछ की तो विनय उसके साथी ने सच कबूल कर लिया है।आईजी लक्ष्मी सिंह के अनुसार विनय ने बताया है कि वह सिर्फ रोशनी को मारना चाहता था। दोनों आरोपियों ने गुनाह स्वीकार कर लिया है। रोशनी के होश में आने पर उसके बयान भी दर्ज किए जाएंगे।

29861cookie-checkउन्नाव (CNF)/ लंबू ने छह दिन पहले रची थी मौत की साजिश, बोला- जिसे मारना था वो बच गई |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
For Query Call Now